यूँ ज़हमत न कीजिये हुज़ूर ,

4 Pins93 Followers
यूँ ज़हमत न कीजिये हुज़ूर दबे पाँव महफिलों में आकर , की अंजुमन में गुलो ने खार के मोती अपनी पलकों से उठाये हैं ।कहीं घायल हुयी पाज़ेब कहीं

यूँ ज़हमत न कीजिये हुज़ूर दबे पाँव महफिलों में आकर , की अंजुमन में गुलो ने खार के मोती अपनी पलकों से उठाये हैं ।कहीं घायल हुयी पाज़ेब कहीं

यूँ ज़हमत न कीजिये हुज़ूर दबे पाँव महफिलों में आकर , की अंजुमन में गुलो ने खार के मोती अपनी पलकों से उठाये हैं ।कहीं घायल हुयी पाज़ेब कहीं

यूँ ज़हमत न कीजिये हुज़ूर दबे पाँव महफिलों में आकर , की अंजुमन में गुलो ने खार के मोती अपनी पलकों से उठाये हैं ।कहीं घायल हुयी पाज़ेब कहीं

यूँ ज़हमत न कीजिये हुज़ूर दबे पाँव महफिलों में आकर , की अंजुमन में गुलो ने खार के मोती अपनी पलकों से उठाये हैं ।कहीं घायल हुयी पाज़ेब कहीं

यूँ ज़हमत न कीजिये हुज़ूर दबे पाँव महफिलों में आकर , की अंजुमन में गुलो ने खार के मोती अपनी पलकों से उठाये हैं ।कहीं घायल हुयी पाज़ेब कहीं

यूँ ज़हमत न कीजिये हुज़ूर दबे पाँव महफिलों में आकर , की अंजुमन में गुलो ने खार के मोती अपनी पलकों से उठाये हैं ।कहीं घायल हुयी पाज़ेब कहीं

यूँ ज़हमत न कीजिये हुज़ूर दबे पाँव महफिलों में आकर , की अंजुमन में गुलो ने खार के मोती अपनी पलकों से उठाये हैं ।कहीं घायल हुयी पाज़ेब कहीं

Pinterest
Search