तुम अपने आप को जो माने बैठे हो, तुम वो हो नहीं। ~ श्री प्रशांत  #ShriPrashant #Advait #imagination Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin .com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

तुम अपने आप को जो माने बैठे हो, तुम वो हो नहीं। ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #imagination Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin .com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

pin 2
heart 1
जो जितनी चालाकियाँ सीख लेगा, वो उतना ज़्यादा कष्ट में, दुविधा में, अन्दर बँटा – बँटा सा रहेगा। ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #suffering #mind Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

जो जितनी चालाकियाँ सीख लेगा, वो उतना ज़्यादा कष्ट में, दुविधा में, अन्दर बँटा – बँटा सा रहेगा। ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #suffering #mind Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

pin 1
यह जो तुम्हारे खोपड़े का निरंतर चलते रहना है ना – यही उलझाव है। यही तुम्हारा बोझ है। यही तुम्हारा दुःख है। ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #suffering #mind  Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

यह जो तुम्हारे खोपड़े का निरंतर चलते रहना है ना – यही उलझाव है। यही तुम्हारा बोझ है। यही तुम्हारा दुःख है। ~ श्री प्रशांत #ShriPrashant #Advait #suffering #mind Read at:- prashantadvait.com Watch at:- www.youtube.com/c/ShriPrashant Website:- www.advait.org.in Facebook:- www.facebook.com/prashant.advait LinkedIn:- www.linkedin.com/in/prashantadvait Twitter:- https://twitter.com/Prashant_Advait

pin 1
समय मानसिक है | मन सो जाये तो समय ख़त्म हो जाता है क्योंकि मन की दुनिया में ही सब बदलता रहता है | समय नहीं चल रहा, मन चल रहा है | ~ प्रशान्त त्रिपाठी Prashant Tripathi

समय मानसिक है | मन सो जाये तो समय ख़त्म हो जाता है क्योंकि मन की दुनिया में ही सब बदलता रहता है | समय नहीं चल रहा, मन चल रहा है | ~ प्रशान्त त्रिपाठी Prashant Tripathi

समय पाय फल होत है, समय पाय झारि जात | सदा रहै नहीं एक सी, का रहीम पछतात || ~रहीम

समय पाय फल होत है, समय पाय झारि जात | सदा रहै नहीं एक सी, का रहीम पछतात || ~रहीम

काल हमारे संग है, कस जीवन की आस | दस दिन नाम सँभार ले, जब लगि पिंजर साँस || ~कबीर (Kabir)

काल हमारे संग है, कस जीवन की आस | दस दिन नाम सँभार ले, जब लगि पिंजर साँस || ~कबीर (Kabir)

सब जग सूता नींद भरि, मोहि न आवै निन्द | कल खड़ा है बारनै, (ज्यौ) तोरन आया बिन्द | ~संत कबीर (Kabir)

सब जग सूता नींद भरि, मोहि न आवै निन्द | कल खड़ा है बारनै, (ज्यौ) तोरन आया बिन्द | ~संत कबीर (Kabir)

माली आवत देखि के, कलियाँ करें पुकार | फूली फुली चुनी लई, काल हमारी बार || ~ कबीर (Kabir)

माली आवत देखि के, कलियाँ करें पुकार | फूली फुली चुनी लई, काल हमारी बार || ~ कबीर (Kabir)

heart 1
पात झरन्ता देखि के हँसती कूपलियाँ | हम चाले तुम चालियो धीरी बापलियाँ || ~कबीर (Kabir)

पात झरन्ता देखि के हँसती कूपलियाँ | हम चाले तुम चालियो धीरी बापलियाँ || ~कबीर (Kabir)

एक घड़ी न मिलते ता कलिजुगु होता।  ~ शबद हज़ारे   When I could not be with you for just one moment, the dark age of kali yuga dawned for me.  There is something that time and situations just cannot touch.  This New Year, get in touch with that which time cannot destroy!

एक घड़ी न मिलते ता कलिजुगु होता। ~ शबद हज़ारे When I could not be with you for just one moment, the dark age of kali yuga dawned for me. There is something that time and situations just cannot touch. This New Year, get in touch with that which time cannot destroy!

Pinterest • The world’s catalogue of ideas
Search