प्रेम परकाष्ठा नहीं राधा प्रेम का उद्गम है प्रेम भक्ति जहाँ दोनों हैं राधा उनका संगम है। बोलो राधे कृष्ण।।

प्रेम परकाष्ठा नहीं राधा प्रेम का उद्गम है प्रेम भक्ति जहाँ दोनों हैं राधा उनका संगम है। बोलो राधे कृष्ण।।

Vaisnava tilak. We mark our bodies to remember Krishna and a reminder that every body is a temple in which Krishna's form as Paramatma dwells.

Vaisnava tilak. We mark our bodies to remember Krishna and a reminder that every body is a temple in which Krishna's form as Paramatma dwells.

Pinterest • The world’s catalogue of ideas
Search